• Wed. Jul 24th, 2024

ओम शांति – नारी स्वर्ग का द्वार है – ब्रह्माकुमारी ज्योति।

ByTcs24News

Jul 10, 2024
ओम शांति – नारी स्वर्ग का द्वार है – ब्रह्माकुमारी ज्योति।जानें कि ब्रह्माकुमारी ज्योति की शिक्षाओं में महिलाओं को स्वर्ग के द्वार के रूप में कैसे देखा जाता है।

गुलशन परुथी – ग्वालियर

ब्रह्मा कुमारीज मालनपुर के द्वारा सीताराम कॉलोनी के महिलाओं के लिए कार्यक्रम रखा गया। जिसके अंतर्गत नारी नरक का नहीं स्वर्ग का द्वार है स्पष्ट किया। मुख्य वक्ता ब्रह्माकुमारी ज्योति बहन ने सभी माताओ को प्रोत्साहन देते हुए बताया। आज तक साधु संतों के द्वारा आपने सुना नारी नरक का द्वार है, लेकिन वास्तव में परमपिता परमात्मा ने कलयुग के अंत में आकर यह स्पष्ट किया है, कि नारी नरक का नहीं स्वर्ग का द्वार है।

वह शर्तें यदि नई अपने दिव्या गुना को धारण कर ले और अपने मनोविकारों को सकारात्मक बना ले तो निश्चित ही नारी स्वर्ग लाने की निमित्त बनती है। परमपिता परमात्मा ज्ञान का कलश नारियों के सिर पर रखते हैं, जिनके द्वारा दुनिया के हर वर्ग का कल्याण होता है। इसलिए कहा भी जाता है, जहां नारी की पूजा होती है, वह देवता रमन करते हैं। तो हमें अपने सामान को सदा याद रखना है। और अपने जीवन को दिव्या गुना से सजाना है। कार्यक्रम में ब्रह्मा कुमार महेश भाई ने परमपिता परमात्मा का ध्यान कर कर माता की चिताओं को समाप्त किया, और उन्हें एकाग्रता का महत्व बढ़ाया और बताया एकाग्र मन से किए हुए कार्य सफलता की ओर अग्रसर होते हैं।

अपनी शुभकामनाएं देने के लिए घेरोंगी के सरपंच मिथिलेश गुर्जर ने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा, जब भी आपको कोई भी आवश्यकता है हम आपके साथ हैं, हम सदा सबको सुख देना चाहते हैं, सहयोग देना चाहते हैं, और यही हर संस्था सिखाती है। शुभकामनाओं के लिए कमांडेंट यदुवंश रघुवंशी ने भी बताया संस्था जब से स्थापित हुई है, तब से ही विशेष नारियों का तो कल्याण किया ही है, घर-घर को स्वर्ग बनाया है। यह ब्रह्माकुमारी या निश्चित ही पूरे विश्व को स्वर्ग बनाएंगे इस प्रकार से कार्यक्रम के अंतर्गत कॉलोनी की सैकड़ो माता ने भाग लिया और अध्यात्म के मार्ग पर चलने का संकल्प लिया धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Footer